पतंजलि की ग्रोथ रुकी, बालकृष्ण बोले- जीएसटी और नोटबंदी से पड़ा ऐसा प्रभाव

0
15

देश की तेजी से बढ़ती FMCG (फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स) कंपनियों में शुमार पंतजलि को झटका लगा है। कंपनी का कहना है कि पिछले वित्त वर्ष में कंपनी की बिक्री में कोई खास इजाफा नहीं हुआ है। लाइवमिंट डॉट कॉम की एक रिपोर्ट के मुताबिक कंपनी के एमडी आचार्य बालकृष्ण ने एक इंटरव्यू में कहा कि हमने पिछले साल के खाते बंद कर दिये हैं और कंपनी की आय लगभग वहीं है जहां पिछले साल थी। बता दें कि 4 मई 2017 को पंतजलि समूह के संस्थापक बाबा रामदेव ने कहा था कि कंपनी का राजस्व हर साल दोगुना हो जाएगा और मार्च 2018 तक ये 20 हजार करोड़ तक पहुंच जाएगा, इसके साथ ही पंतजलि 31 मार्च 2019 तक भारत की सबसे बड़ी पैकेज गुड्स कंपनी हिन्दुस्तान यूनीलीवर को पीछे छोड़ देगी। हालांकि हकीकत में ऐसा होता नहीं दिख रहा है।

आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी को लागू करने के प्रभावों की वजह से कंपनी की ग्रोथ पर असर पड़ा है। हालांकि उन्होंने कहा कि पतंजलि अगले साल अच्छा बिजनेस करेगी। उन्होंने कहा, “इसके अलावा साल भर हमने इंफ्रास्ट्रक्चर और सप्लाई चेन को विकसित करने में अपनी ऊर्जा लगाई, इस साल सिर्फ हमने कमाई को बढ़ाने पर ही जोर नहीं दिया बल्कि सिस्टम विकसित करने पर भी हमारा ध्यान था।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here