जयाप्रदा को टिकट देगी भाजपा, रामपुर में आजम खान को देंगी सीधी टक्कर

0
554

लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने के साथ ही सभी पार्टियां अपने- अपने उम्मीदवारों की सूची फाइनल करने में जुट गई हैं। भाजपा शनिवार देर रात तक इस बात को लेकर मंथन करती रही कि टिकट किये दिया जाए और किसे नहीं दिया जाए। इस बीच खबर यह आ रही हैं कि भाजपा जयाप्रदा को चुनावी मैदान में उतारने के मूड में है। कहा जा रहा है कि भाजपा जया प्रदा को रामपुर से उतार सकती है। प्रदेश पैनल में भी जया प्रदा का नाम रामपुर से लिया गया है। हालांकि रामपुर से केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और वर्तमान सांसद नेपाल सिंह के बेटे का भी नाम चल रहा है।

उधर खबर यह भी है कि समाजवादी पार्टी रामपुर से आजम खान को उतार सकती है। अगर दोनों पार्टियां जया और आजम खान का नाम फाइनल कर देती हैं तो रामपुर में एक दिलचस्प मुकाबला देखने को मिलेगा। बता दें कि मिया आजम खान और जयाप्रदा के बीच पुरानी अदावत है। जब अमर सिंह समाजवादी पार्टी के चाणक्य हुआ करते थे तब जयाप्रदा की पार्टी में तूती बोलती थी। जया 2004 और 2009 में समाजवादी पार्टी की टिकट पर रामपुर से सांसद भी रह चुकी हैं। 2009 में आजम कान के तमाम विरोध के बावजूद भी मुलायम सिंह ने जया को रामपुर से चुनाव लड़वाया था।

उस चुनाव में आजम और जया के बीच जमकर नोक-झोक होती रही। जहां आजम खान और उनके समर्थक जया को ‘नचनिया’ और ‘घुँघरू वाली’ कहते थे वहीं जया चुनावी सभाओं में आजम को भैया कहती थीं। उस चुनाव के दौरान आजम खान और उनके समर्थकों ने जया की फ़िल्मों के अंतरंग दृश्यों के पोस्टर तक पूरे शहर में लगाए। फिर भी जया वह चुनाव जीतने में कामयाब रही। हांलाकि उनके रिश्ते आजम खान के साथ कभी नहीं सुधरे। वो आजम खान ही हैं जिन्होंने पार्टी से अमर सिंह और जयाप्रदा का टिकट कटवाने में अहम भूमिका निभाई। जया ने 2014 के चुनाव में बिजनौर से RLD के टिकट पर किस्मत आजमाया था पर वह चुनाव हार गई थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here