अभिनंदन की वापसी का भारत को इंतजार, अटारी बार्डर के पास जमा हुए लोग

0
36

अटारी (अमृतसर)। विंग कमांडर अभिनंदन वर्थमान की एक झलक पाने के लिये अटारी सीमा पर सैकड़ों की तादाद में लोग शुक्रवार को जमा हो गये। पाकिस्तान के कब्जे से रिहा होने के बाद विंग कमांडर के मातृभूमि पर कदम रखने की संभावना है। विंग कमांडर वर्तमान, भारतीय वायुसेना के एक अधिकारी के पुत्र हैं। दुश्मन के एक मिसाइल के हमले में वर्तमान के विमान के गिर जाने के बाद पाकिस्तान ने उन्हें अपने कब्जे में ले लिया था। बुधवार सुबह पाकिस्तान के हमले को विफल करने के दौरान पाकिस्तान के एक एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया गया और वर्तमान का मिग 21 विमान भी हमले की चपेट में आ गया जिसके बाद वह पैराशूट से नीचे कूद गये थे। तब से वह पाकिस्तान की हिरासत में ही हैं।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बृहस्पतिवार को संसद में घोषणा की कि वर्तमान को शुक्रवार को ‘‘शांति सद्भाव’’ के तहत रिहा किया जायेगा। सीमा के पास रहने वाले लोगों के साथ वहां मौजूद लोगों में देशभक्ति का जज्बा दिख रहा है। लोग हाथों में तिरंगा थामे गाने गाकर और ड्रम बजाकर देशभक्ति का भाव दर्शा रहे हैं। भारत-पाक सीमा से महज एक किलोमीटर की दूरी पर लोग देशभक्ति के गीत गा रहे हैं और ‘‘भारत माता की जय’’ के नारे लगा रहे हैं। पास के इलाके से आये एक सिख युवक के हाथ में बड़ा सा फूलों का हार है जबकि एक बुजुर्ग शख्स ‘ढोल’ बजाते दिख रहे हैं।

फूलों का हार थामे हुए युवक ने कहा, ‘‘अगर मुझे अनुमति मिली तो मैं विंग कमांडर को यह हार पहनाकर उनका स्वागत करूंगा।’’ यहां सुरक्षा इंतजाम बढ़ा दिये गये हैं और पंजाब पुलिस के कर्मी भी भारी संख्या में वहां तैनात हैं। अमृतसर के वरिष्ठ उपमहापौर रमन बख्शी भी वहां मौजूद हैं और वह भी खुद को देशभक्ति के गीत गुनगुनाने से रोक नहीं सके। भारत समर्थक नारे लगाते युवाओं का एक समूह मशहूर देशभक्ति गीत ‘‘इस देश का यारों क्या कहना,’’ ‘‘ यह देश है वीर जवानों का’’ गा रहा था। भीड़ में मौजूद कई युवाओं ने कहा कि पाकिस्तान को आतंकवादियों की सहायता करना और उन्हें बढ़ावा देना बंद करना चाहिए अन्यथा वह गंभीर परिणाम भुगतने के लिये तैयार रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here