मॉब लिंचिंग पर बोले राजनाथ, सरकार चिंतित, लाया जा सकता है नया कानून

0
20

बढ़ती मॉब लिंचिंग की घटनाओं की निंदा करते हुए गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि इस पर सरकार चिंतित और विचारशील है और इसके जांच के लिए एक उच्चस्तरीय कमेटी भी बनाई गई है जो चार सप्ताह में अपनी रिपोर्ट देगी। उन्होंने कहा कि अगर जरुरत पड़ी तो ऐसी घटनाओं को रोकने के लिए सरकार नया कानून लेकर आएगी। लोकसभा में सांसदों की चिंता पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए गृह मंत्री ने कहा कि इसे रोकने के लिए राज्य सरकारों को निर्देश दिए जा चुके हैं और सरकारें ऐसी घटनाओं पर कड़ी कार्रवाई भी कर रही है।

1984 दंगे को सबसे बड़ी लिंचिंग बताते हुए राजनाथ सिंह ने कांग्रेस पर एस मामले में राजनीति करने का आरोप लगाया और कहा कि यह हाल ही में शुरू नहीं हुआ है बल्कि वर्षों से लिंचिंग की घटनाएं सामने आ रही हैं।
गौरतलब है कि उच्चतम न्यायालय ने भी संसद से मॉब लिंचिंग के खिलाफ कानून बनाने का सुझाव दिया था। शून्यकाल में आज इस विषय को उठाते हुए तृणमूल कांग्रेस के सुदीप बंदोपाध्याय ने कहा कि मॉब लिंचिंग की घटनाएं देश में लगातार घट रही है और कोई भी समझादार व्यक्ति इसकी निंदा करेगा। यह जघन्य और बर्बर अपराध है । ऐसी घटनाओं का दुर्भावना से प्रेरित कुछ लोग फायदा उठा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here