अपनी मांगों को लेकर सेवानिवृत्त कर्मचारियों का जीपीओ पर धरना

0
18

लखनऊ – प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आये दिन कोई न कोई धरना-प्रदर्शन होता रहता है। इसी क्रम में आज सेवानिवृत्त कर्मचारियों ने भी हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठ गये। यह धरना सेवानिवृत्त कर्मचारी एवं पेंशनर्स एसोसिएशन बैनर तले हुआ जिसमें इनकी मांगे है कि पूर्व में सेवानिवृत्त कर्मचारियों द्वारा जो इलाज प्राइवेट अस्पताल में कराया जाता था उसका भुगतान सरकार करती थी, लेकिन अब ऐसा नहीं रहा। इनका आरोप है कि सरकारी अस्पतालों में इलाज की सही व्यवस्था नही है और बढ़ती उम्र के चलते सरकारी अस्पतालों में लगने वाली लंबी-लंबी लाइनों में भी लगने में कठिनाई होती है।

जिस कारण इनको प्राइवेट अस्पतालों में इलाज कराना पड़ता है लेकिन सरकार ने इनसे इनके हक़ छीन लिए जब कि विधायक, मंत्री व बड़े पदों पर रहने वाले लोगो को ये सुविधा बरकरार है जबकि ऐसे लोगों को इसकी आवश्यकता नहीं है। सरकार से इनकी मांग है कि पूर्व की तरह प्राइवेट अस्पताल में इलाज कराने पर सरकार द्वारा जो भुगतान किया जाता था वो पुनः शुरू किया जाये।

यह धरना प्रदर्शन सेवानिवृत्त कर्मचारी एवं पेंशनर्स एसोसिएशन के आह्वान पर प्रदेश भर के तमाम जनपदों से आए पेंशनर प्रतिनिधियों द्वारा किया गया था। प्रदर्शनकारियों ने सत्याग्रह एवं सभा कर राज्य सरकार को प्राइवेट इलाज के भुगतान पर लगी रोक हटाने के लिए आगाह किया तथा सर्व सम्मत प्रस्ताव पारित कर जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजकर प्रकरण में प्रभावी कार्रवाई कराए जाने की मांग की है।

वहीं इस मौके पर मौजूद संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अमरनाथ यादव ने कहा की केंद्र सरकार से जुड़े मुद्दों पर प्रधानमंत्री जी को प्रस्तुत की जाने वाली सामूहिक याचिका पर हस्ताक्षर अभियान चल रहा है। जिसमें कर्मचारियों, शिक्षकों, पेंशनर्स के लिए भारत सरकार के 2008 के निर्णय अनुसार नई उपभोक्ता मूल्य सूचकांक प्रणाली बनाने, महंगाई भत्ता / राहत की बढ़ोतरी की।

गणना में दशमलव के बाद भी संख्या को पूर्णांक बनाने परिवारिक पेंशन आयकर से मुक्त करने तथा सभी सेवाओं के लिए “एक पद एक पेंशन” की नीति निर्धारित करने व राशिकृत धनराशि की कटौती जो 98 माह में पूर्व हो जाती है को 15 की बजाय 10 वर्ष पर समाप्त करने, एलपीएस के स्थान पर पुरानी सुनिश्चित पेंशन व्यवस्था लागू करने और एक राष्ट्रीय पेंशन नीति निर्धारित करने विषयक प्रधानमंत्री जी को प्रेषित की गई नोटिस का संज्ञान प्रधानमंत्री कार्यालय ने लिया है दिनांक 22-10-18 द्वारा पोर्टल पर दर्ज किया गया है जल्द ही सामूहिक याचिका प्रस्तुत की जाएगी।

इस धरने प्रदर्शन में मुख्य रूप से सुभाष चंद्रा त्यागी, जगदीश प्रसाद शर्मा, एम ए अल्वी, अंगद सिंह, अरसी उपाध्याय, राम स्वरूप कश्यप, अशोक सोनी, उदय राज सिंह, शेष नारायण सचान, आरसी कनौजिया, आर पी पांडे, हसमुद्दीन खान, केजी वर्मा,, गिरीश चंद्र वर्मा, चंद्रपाल सिंह, चंद्रपाल यादव, पराग राम यादव, प्रेमचंद्र गुप्ता, आर एन सिन्हा, जेके सिंह, के पी ओझा, घनश्याम श्रीवास्तव आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here