बुलंदशहर हिंसा : डीजीपी ओपी सिंह ने कहा- शहीद इंस्पेक्टर के बच्चों की पढाई का खर्च वहन करेगी सरकार

0
38

लखनऊ – बुलंदशहर में गोकशी की सूचना के बाद हुई हिंसा में शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की पत्नी के साथ उनके दोनों बेटों ने आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भेंट की। इस दौरान उत्तर प्रदेश के डीजी पुलिस ओपी सिंह भी मौजूद थे। ओपी सिंह ने इस भेंट के बाद मीडिया को भी संबोधित किया।

डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने इंस्पेक्टर के परिवार को शीघ्र ही न्याय का भरोसा दिलाया है। मुख्यमंत्री ने इंस्पेक्टर सुबोध के परिवार को आरोपियों पर सख्त कार्रवाई का भरोसा दिया। सीएम ने परिवार को पूरी मदद का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा है कि हम परिवार के साथ हैं।

डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि इसके साथ ही उत्तर प्रदेश सरकार स्वर्गीय सुबोध कुमार सिंह के दोनों पुत्रों की पढ़ाई का पूरा खर्च वहन करेगी। वह इस परिवार को हर प्रकार की सुविधा तथा सहायता भी देगी। सुबोध कुमार सिंह के पुत्र श्रेय प्रताप सिंह ने कहा कि हमारी सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात हुई है हमने अपनी मांगे उनके सामने रखी हैं।

जिले के प्रभारी मंत्री अतुल गर्ग ने बताया कि सरकार एटा में सड़क और कॉलेज का शहीद सुबोध कुमार सिंह के नाम पर सरकार रखेगी। सरकार ने इसका आदेश जारी किया है।एटा में शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के गांव को जाने वाले सड़क जैठारी-कुरौली मार्ग का नाम शहीद श्री सुबोध कुमार सिंह मार्ग रखा गया है।उन्होंने कहा कि परिवार ने बच्चों की शिक्षा के लिए जो 25 से 30 लाख का परिवार ने कर्ज लिया है वो सरकार अदा करेगी। इसके साथ ही बच्चो की पढ़ाई के लिए पुलिस विभाग की ओर से मदद दी जाएगी। बड़ा बच्चा सिविल सर्विस और छोटा बेटा लॉ की तैयारी कर रहा है।

डीजीपी ने कहा कि पेंशन और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी। पहले 40 लाख परिवार को दिया जाना था और अब 10 लाख भी परिवार को जायेगा। इसके साथ सरकार दोनों बच्चों की पढ़ाई का खर्च वहन करेगी। सीएम ने आश्वासन दिया है परिवार के साथ सरकार खड़ी है। जो जांच होगी सभी की भूमिका तय होगी, कार्यवाही होगी। सुबोध कुमार सिंह को पुलिस विभाग, सीएम व सभी की ओर से श्रद्धांजलि। डीजीपी ने बताया कि इस मामले में सीएम ने इंटेलिजेंस विभाग को जांच दी है। आज रिपोर्ट मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here