व्यापारी अधिकार यात्रा का आयोजन किया गया।- कैनविज टाइम्स

0
34

लखनऊ। ( वहाब उद्दीन सिद्दीक़ी ) राजधानी में रविवार को व्यापारी अधिकार यात्रा का आयोजन किया गया।इस दौरान सैकड़ों की संख्या में व्यापारी 1090 चौराहे पर पहुंचे और राजधानी के विभिन्न क्षेत्रों में वाहन के साथ यात्रा की नोटबंदी और जीएसटी के बाद छोटे तबके के व्यापारियों को हो रही समस्या के समाधान के लिए सरकार से अपील की। इस दौरान व्यापारियों में ऑनलाइन शॉपिंग को लेकर भी काफी आक्रोश था व्यापारियों ने सरकार से ऑनलाइन शॉपिंग प्रक्रिया बंद करने की मांग भी की है। वहीं उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष अनूप शुक्ला ने बताया कि इस व्यापारी अधिकार यात्रा का उद्देश्य व्यापारियों के अधिकार की लड़ाई लड़ना है। हमारे संगठन के जरिए पिछले 2 वर्षों से लगातार व्यापारियों के हित में काम किया जा रहा है। नोटबंदी और जीएसटी के बाद से व्यापारियों को कहीं ना कहीं उत्तर प्रदेश सरकार से दिक्कतें हैं आज की व्यापारी अधिकार यात्रा जीएसटी और मंडी शुल्क समेत और भी कई मांगों को लेकर थी। जिन पर सरकार ध्यान नहीं दे रही है जबकि व्यापारियों के अधिकार को देना सरकार की जिम्मेदारी है। इसलिए आज हम 15 सूत्रीय मांगों के ज्ञापन के जरिए अपनी मांगे रख रहे हैं। इसी क्रम में आज व्यापारी अधिकार यात्रा में व्यापारी संगठन के तमाम पदाधिकारी इकट्ठा हुए हैं। हमारी आज की यात्रा सांकेतिक है

यह यात्रा के जरिए सभी जनपदों में हम जाएंगे हम चाहते हैं कि सरकार हमारी 15 सूत्रीय मांगे माने और व्यापारियों को सम्मान दे। साथ ही उन्होंने कहा कि नोट बंदी, जीएसटी और ऑनलाइन शॉपिंग के बाद ऐसी स्थिति बन गई है कि इस बार की दिवाली में सारे व्यापारियों का दिवाला निकल गया। हमारी मांग है कि सरकार ऑनलाइन शॉपिंग बंद कराएं या फिर व्यापारियों को टैक्सेस या सबसिटी के माध्यम से इतनी ताकत दें कि वह इसका मुकाबला कर पाए वरना व्यापारी इन की प्रतिस्पर्धा नहीं कर पाएगा और एक समय आएगा कि जितना भी छोटा व्यापारी है वह सब का व्यापार खत्म हो जाएगा और मुझे लगता है जिस देश में एक एक व्यापारी चौपट हो जाएगा तो इस देश में बेरोजगारी की एक बहुत बड़ी समस्या उत्पन्न हो जाएगी। ऑनलाइन शॉपिंग की वजह से व्यापारी अपना सामान नहीं बेच पा रहा है। इस वजह से व्यापारी पूरी तरह से परेशान हो चुका है। और व्यापारियों को राहतें अगर सरकार से मिलती है तो वह कोई गिफ्ट नहीं है बल्कि यह व्यापारियों का अधिकार है और वो सरकार को देना चाहिए।
इसलिए आज की व्यापारी अधिकार यात्रा व्यापारियों में एकजुटता लाने के लिए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here